logo
  • VAISHALI DAIRYS
  • RNI Ref No. - 1325847
  • Title Code - BIHHIH11817
  • +91 7070777733

वैशाली डायरी

Breaking News

बिदूपुर:स्थानीय बुद्धिजीवियों,राजनीतिक दल कर रहे समझौते की प्रयास। बिदूपुर:अपराध की योजना बना रहे दो अपराधी गिरफ्तार। जनता-जनार्दन के स्वास्थ्य लाभ के लिए आयूर्वेद एवं प्राकृतिक चिकित्सा का केंद्र खुला। पितृदेव शिरोमणि व ज्योतिष वास्तु आयुर्वेद भूषण सम्मान मिला! प्रोफेसर अनिरुद्ध प्रसाद उर्फ एपी दास के असामयिक निधन पर समाज को अद्वितीय क्षति !


नयी दिल्ली/ पटना अक्टूबर अखिल भारतीय कायस्थ महासभा नयी दिल्ली पंजीकृत के राष्ट्रीय अध्यक्ष योगेन्द्र श्रीवास्तव में राजनीति में कायस्थों की उपेक्षा किये जाने पर दुख व्यक्त करते हुये कहा कि कायस्थ किसी को भी चुनाव में चुनाव जीताने या हराने की ताकत रखते हैं, इसलिये उन्हें राजनीति में उचित प्रतिनिधित्व दिये जाने की जरूरत है।



योगेन्द्र श्रीवास्तव की अध्यक्षता में आज शाम अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की ओर से जूम पर बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में राजनीति में कायस्थ की उपेक्षा, कायस्थ महासभा की ओर से स्टार्टअप प्लान और कला.संस्कृति को बढ़ावा दिये जाने के बारे में विस्तृत चर्चा की गयी। राष्ट्रीय अध्यक्ष योगेन्द्र श्रीवास्तव ने कहा कि स्वामी विवेकानंद, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, डॉ राजेन्द्र प्रसाद, लाल बहादुर शास्त्री, जय प्रकाश नारायण और बाला साहब ठाकरे जैसी कई विभूतियों ने राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कायस्थ समाज का नाम ऊंचा किया है।



 मौजूदा समय में कायस्थ परिवार के लोगों की राजनीति के क्षेत्र में उनका वाजिब हक नहीं दिया जा रहा है। कायस्थ किसी को भी चुनाव जीताने या हराने की ताकत रखते हैं। कायस्थों को राजनीति में उचित प्रतिनिधित्व दिये जाने की जरूरत है। उन्होंने बताया कि बिहार की राजनीति में कायस्थों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है लेकिन हाल के कुछ वर्षो से राजनीतिक दल कायस्थों की उपेक्षा कर रहे है, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। आगामी बिहार विधानसभा में कायस्थ परिवार के लोगों को टिकट देने में राजनीतिक दलों ने जिस तरह से.नजर अंदाज किया है वह सही नहीं है।


उन्होंने कहा कि अब फैसला लेने का समय आ गया है। जहां कहीं कायस्थ परिवार से जुड़े लोग खड़ें हो वहां के लोग उन्हें वोट देकर विजयी बनायें। इस अवसर पर आइटी एवं सोशल मीडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमिताभ निगम ने महासभा की ओर से स्टार्टअप प्लान पर चर्चा करते हुये कहा कि चित्रांश फूड मार्ट, चित्रांश फार्मेसी, चित्रांश मिल्क स्टोर, चित्रांश बेकरी स्टोर और चित्रांश द पॉलीक्लिनिक को अंतिम रूप दिया जा रहा है। हमारा मकसद इन परियोजनाओं के द्वारा बेराजगार कायस्थ परिवार के लोगों को रोजगार मुहैय्या कराना है। महासभा आने वाले समय में पांच अन्य परियोजना शुरू करने की ओर कृत संकल्पित है। उन्होंने बताया कि बिहार में कला और संस्कृति की असीम संभावनायें मौजूद है। बिहार शुरू से हीं कला और संस्कृति के मामले में आगे रही है। आने वाले समय में चित्रांश आर्ट एंड कल्चर इंस्टीच्यूट हर जिले में खोला जायेगा जिसके जरिये कायस्थ परिवार के लोग कला और संस्कृति की शिक्षा हासिल कर सकें। उन्होंने कला संस्कृति प्रकोष्ठ के अध्यक्ष देव कुमार लाल की प्रशंसा करते हुये कहा कि उनके नेतृत्व में बिहार में शानदार कार्यक्रम का आयोजन किये जा रहे हैं।



डॉ.नम्रता आनंद ने कहा कि मैं पिछले 25 सालों से समाज सेवा करती आ रही हूं। मैंने आज तक हर वर्ग के लिए काम किया। कभी किसी में भेदभाव नहीं किया। अब कोशिश करूंगी कि मैं कायस्थ जाति को भी आगे बढाऊंगी। कायस्थो की प्रतिभा इतनी जबरदस्त है कि यदि इतिहास उलट कर देखा जाए तो राजनीति में भी अव्वल रहे हैं और आगे भी रहेंगे। आने वाले समय में एक दिन ऐसा जरूर आएगा जब कायस्थ यह साबित करके दिखाएंगे कि राजनीति में उनकी उपेक्षा करना राजनीतिक दलों को कितना भारी पड़ सकता है।युवा प्रकोष्ठ महासचिव कुमार आर्यन ने आधुनिक भारत के निर्माण में युवा समुदाय की भागीदारी सुनिश्चित हो इसके लिए पुरजोर तरीके से युवाओं का आवाहन किया।वहीं पटना जिला युवा अध्यक्षा अचला श्रीवास्तव ने शांति प्रदर्शन का आह्वान किया जिसमें गीतों के समागम से कायस्थ एकता की लय का प्रसार होगा। उन्होंने महिलाओं का आवाहन किया की राजनीतिक परिदृश्य में अनदेखी के विरुद्ध अपनी आवाज धरातल पर पूरी शक्ति के साथ दर्ज करवानी होगी।

+